Header Ads

अपने माता-पिता का सम्मान करने के 36 तरीके | Essay On Parents Respect Hindi

Essay On Parents Respect Hindi - mata pita par nibandh - Respect on parents
Essay On Parents


माता-पिता के सम्मान पर निबंध - Essay On Parents Respect

माता पिता का सम्मान तो हमेशा दिल से किया जाता है। ये सारे संस्कार हम बचपन से सीखते हुए बड़े होते हैं। माता-पिता का दिल से सम्मान करने के लिए हमें किसी भी Father's day या फिर Mother's day की जरूरत नहीं होती है। साल का यह एक स्पेशल दिन किसी को माता-पिता का सम्मान करना नहीं सिखा सकता है। 


माता- पिता के साथ हमारा रिश्ता दिल की गहराईयों से जुड़ा रहता है जो हर समय उनके सम्मान में नतमस्तक रहता है। तो चलिए जानते है की अपने माता-पिता को कैसे सम्मान दिया जाता है। Essay On Parents  


अपने माता-पिता का सम्मान करने के 36 तरीके

1. उनकी उपस्थिति में अपने मोबाइल का इस्तेमाल न करें।

2. वे जो कहते हैं उस पर ध्यान दें।

3. उनकी मान्यताओं को स्वीकार करें।

4. उनकी बातचीत में शामिल हों।

5. उन्हें सम्मान की दृष्टि से देखें।

6. उनकी सदा प्रशंसा करे।

7. उनका हमेंशा ध्यान पूर्वक ख्याल रखें।

8. उन्हें वह खुशखबरी दें जिसकी उन्हें जरूरत है।

9. उन्हें बुरी खबर देने से बचें।

10. उनके मित्रो और संबंध्यो के साथ आदर भाव से पेश आएं।


माता-पिता का सम्मान पर निबंध- Essay on parents Respect your Parents

11. उनके द्वारा किए गए अच्छे कामों को हमेशा याद रखें।

12. यदि वे एक ही बात को बार-बार कहते हैं, तो भी उन्हें ऐसे सुनें जैसे वे पहली बार कह रहे है।

13. अतीत की दुख देनेवाली यादों या अवसरों को बार-बार न दोहराएं।

14. उनकी उपस्थिति में पति-पत्नी एक दूसरे के कानों में जाकर बात न करें।

15. उनके साथ विवेक्ता पूर्वक से बैठें।

16. उनके विचारों को न तो घटिया कहें न ही उनकी आलोचना करें.

17. उनकी कोई भी बात को बीच में से न काटे उन्हे पुरा सुने।

18. उनकी किसी भी उम्र का सम्मान करें।

19. उनके आसपास उनके पोते/पोतियों को धमकाना अथवा मारने से बचें।

20. उनकी सलाह और मार्गदर्शन को स्वीकार करें।

Essay on parents

21. उनके नेतृत्व को स्वीकार करें।

22. उनके साथ उंची आवाज से बात न करे।

23. उनके आगे या उनके सामने गुजरने से बचें।

24. आप उनके भोजन से पहले खुद खाने से बचें।

25. उनके सामने घूरें नहीं।

26. उन्हें तब भी गौरवान्वित प्रतीत करायें जब की वे अपने आपको इसके लायक न समझें।

27. उनके सामने अपने पैर रखकर या उनकी तरफ पीठ रखकर बैठने से बचें।

28. उनकी कभी बुराई न करें और न ही किसी अन्य द्वारा की गई उनकी बुराई का उनके सामने वर्णन करें।

29. उन्हें हमेंशा अपनी प्रार्थनाओं में शामिल करें।

30. उनकी उपस्थिति में ऊबने या अपनी थकान का प्रदर्शन न करें.


31. उनकी गलतियां अथवा अज्ञानता पर हंसने से बचें।

32. उनके कहने से पहले उनका काम करें।

33. नियमित रूप से हमेंशा उनके पास जायें।

34. उनके साथ वार्तालाप में अपने शब्दों का ध्यान पूर्वक उपयोग करें।

35. उन्हें उसी सम्बोधन से सम्मानित करें जो वे पसंद करते हैं।

36. अपने किसी भी काम के भोगे उन्हे प्राथमिकता दें।

Mata Pita Par Nibandh | Essay On Parents in Hindi 

इतना याद रखिएगा की आपके माता-पिता ही इस दुनिया का सबसे बड़ा खजाना हैं।

सबसे पहले हमारे भगवान और गुरु हमारे माता-पिता ही हैं और यह हर शास्त्र और धर्म में कहा गया है।


हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल अगर आपको पसंद आये तो आगे शेयर जरूर करेे.. धन्यवाद



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ