Header Ads

लाइक और लव में क्या फ़र्क है | Difference Between Love and Like Hindi

 

Difference Between Love and Like - Like aur love mein kya fark hai - Like and Love Difference in Hindi

प्रेम और पसंद में अंतर...
Difference Between Love and Like


दोस्तो आप अपनी जिंदगी में किसी को भी लाइक करते होंगे और कोई ऐसे व्यक्ति नही होंगे जिसने लव ना किया हो। तो आज हम इसी सवाल पर बात करेंगे की "लाइक और लव में क्या फर्क है। लाइक का मतलब है चाहना, और लव का मतलब है प्रेम करना ।


अगर इसे शब्दों के तोर पर देखा जाये तो एक जैसे ही लगते है, और कई सारे लोग इसे प्रेम से सन्दर्भ में ही उपयोग में लेते है। और पसंद को प्रेम समझ लेते है लेकिन मित्रो ऐसा नहीं है।

Like Aur Love Mein Kya Fark Hai | Like and Love Difference in Hindi


प्रेम और पसंद में बहुत फर्क है, जमीन आसमान का फर्क है इसे समझना थोडा सा मुश्किल है लेकिन बहुत ही ध्यान से समझना होगा। आईये उदाहरण देकर समझाते है।


एक फूल का पौधा है और उस पर एक फूल खिला हुआ है। अगर आप उस खिले हुए फूल को लाइक यानि पसंद करते है तो आप उसे तोड़ लेते है। अगर आप उस फूल से लव यानि प्रेम करते तो आप उस फूल को वही रहने देते और उस पौधे को पानी देते ताकि वो फूल ज्यादा विकसित हो।


तो देखा आपने लाइक का मतलब फूल को तोड़ लेना है। और लव का मतलब उस फूल को अपनी जगह पर ही सहेज कर रखना है।

लाइक और लव में क्या फ़र्क है | Difference between love and like


अंतर स्पष्ठ है। किसी भी प्रेम में पाने का भाव नहीं होता । और अगर वही चाहत होती तो समझ लो की हम किसी भी चीज़ को पाना चाहते है । ईश्वर ने बनाया हुआ इंसानी जीवन में भी कुछ इस तरहा का ही होता है।


तो हम आपसे इतनी ही गुजारिश करते है की। किसी को पाने के बजाये उस से प्रेम करना सीखिये उसका दिल न तोड़े । वो जहा खुश है वही अपनी खुशिया ढूंढ लीजिये।


हमे आशा है की आप हमारे "Difference between love and like" जवाब से संतुष्ठ होंगे । और इस जवाब को पढ़कर आपको कैसा लगा हमे नीचे कमेंट करके जरूर बताएं ।  <<<< धन्यवाद >>>>



यह भी पढ़े: मेरी बेस्ट फ्रेंड...




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ