Header Ads

रोमांटिक आंटी और उनकी खूबसूरत लड़की | Romantic Story in Hindi

romantic story in hindi - romantic stories to read in hindi - Hot Aunty Romance love story

Romantic Story in Hindi | Hot Aunty Romance love story



मै दिखने में थोड़ा अच्छा हूं और अपने शरीर पर हमेशा ध्यान देते रहता हूं। मेरे घर के पास ही एक परिवार रहता है। उसमे एक महिला और उनकी बेटी ही रहती थी। महिला का बहुत साल पहले ही तलाक हो चुका था। वह महिला देखने में किसी हिरोइन से कम नहीं है, Hot Aunty Romance love story, हम सभी लड़के उन्हे सेक्सी आंटी के नाम से ही जानते है। उनका ड्रेसिंग सेंस बहुत हीं अच्छा है। हर तरह के कपड़े पहनती है। लेकिन जब भी साड़ी पहनती है, किसिभी परी से कम नही लगती थी। 


अब मेरे साथ क्या हुआ वह सुनिए मेरी Romantic Story in Hindi 

मैंने अपने आगे के शिक्षण के दिल्ली के कॉलेज में एडमिशन लिया था। तो मै दिल्ली चला गया था। वहा लगभग 6 महीने हो गए थे तब ही मुझे पता चला की उन आंटी की बेटी भी दिल्ली में ही पढ़ रही है। पहचान के होने के कारण हम बहुत बार मिल लेते थे। वह दिल्ली में अकेली ही रहती थी।



एक दिन उनकी बेटी निक्की(बदला हुआ नाम) ने मुझसे पूछा कि क्या हम दोनो साथ में रह सकते है। मै भी अकेला ही रहता था। यह तो मेरे लिए एक चमत्कार ही था। हमारे एरिया की सबसे सुंदर और Romantic लड़की के साथ रहने का मौका मुझे मिल रहा था। मैंने भी हा बोल दिया। निक्की ने आंटी को बता दिया था की हम दोनो साथ में ही रह रहे है। आंटी भी खुले विचारो की थी तो उन्होंने भी कोई प्रॉब्लम नहीं थी।


वैसे तो हम दोनो सिर्फ दोस्त की तरह रहने का सोच रहे थे। पर हमारे बीच कुछ ही दिनों में शारीरिक संबंध बन गए। मै सोच रहा ही था की आगे क्या करेंगे तो निक्की ने पहले ही बता दिया की वह मुझसे शादी नही कर पाएंगी क्योंकि हम अलग अलग जात के थे। मै भी समझ गया था और हम आगे सिर्फ दोस्त बनके ही रहे। हम लगभग 3 साल साथ ही रहे और इसिबिच हमने बहुत बार संबंध भी बनाए।



कॉलेज खत्म होने पर मै घर आ गया था तो अब निक्की से मिलना भी बहुत कम हो गया । जब भी निक्की घर आती थी तब ही थोड़ी बोलचाल हों जाती थी। पिछले साल ही निक्की की शादी भी हो गई तो अब तो थोड़ी बात होने भी बंद हो गया था।


शादी के कुछ दिन बाद ही एक दिन आंटी को कुछ काम था। तो उन्होंने मुझे बुलाया। उनके कंप्यूटर का थोड़ा काम था। जब मैं उनके घर पहुंचा तब आंटी नाईटी में थी। मैंने उनका कम्प्यूटर देखा और ज्यादा कुछ प्रॉब्लम नहीं थी। 2 मिनिट में ही ठीक हो गई।



रोमांटिक आंटी Romantic Aunty


मै वापस जाने लगा तो आंटी ने बोला थोड़ा रुको , चाय पीकर जाओ। मै रुक गया और चाय पीने लगा। आंटी मेरे बाजू में आकर बैठ गई और बाते करने लगी। पूछ रही थी कि दिल्ली में जब में जब मैं उनकी बेटी के साथ रहता था तो कोई प्रॉब्लम तो नहीं हुई न। मैंने भी कहा कि नहीं कोई प्रॉब्लम नहीं हुई। 


आंटी ने मुझसे तभी सीधे पूछा की कभी मैंने उनकी बेटी के साथ शारीरिक संबंध तो नही किया न। यह सुनते ही मैं थोड़ा सा घबरा गया और नहीं बोला। तभी आंटी मुझे देखकर हसी और बोली, पागल इतना डर क्यों रहे हो। किया भी होंगा तो कोई प्रॉब्लम नहीं है, जवान हो अभी नहीं करोंगे तो कब करोंगे। ऐसे ही प्यार से बाते करते हुए उन्होंने मेरे से बुलवा लिया की मैंने निक्की के साथ संबंध बनाया था। 



आंटी भी हस कर ही बाते कर रही थी, बात करते करते उन्होंने अचानक मेरी जांघ पर हाथ रख दिया और बोली मै कैसी दिखती हू। मै अब थोड़ा ज्यादा ही घबरा गया और बोला की अच्छी ही दिखती हो। फिर आंटी बोली कि चलो थोड़ी मस्ती करते है। उसके बाद मुझे कुछ बोलने का मौका ही नही मिला। आंटी का मुझपर पूरा कंट्रोल था। 


उस दिन हमने लगभग 1 घंटे तक शरीर संबंध मनाया और फिर मैं अपने घर आ गया। तब से जब भी आंटी का मन होता है वह मुझे बुला लेती है और हम थोड़ी मस्ती कर लेते है। यह मेरे लिए एक अनोखा ही अनुभव है। इसको ही मैं अपने लिए छप्पर फाड़ के अनुभव मानता हूं। 


बदलाव 1: कुछ बोल रहे है कि यह झूठी कहानी है, पर यह सच में हुआ है। ऐसी बहुत सी बाते होते रहते ही जिसे सुनने के बाद हम लगता है कि यह सब झूठ होंगा, पर जब यह हमारे साथ होता है, तभी हम उस पर यकीन करते है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां