Header Ads

बारिश की पहली बुँदे

बारिश की पहली बुँदे, पहली बारिश, पानी की पहली बूंद, barish ki pahali bunde

बारिश की वह पहली बुँदे !! हमारी प्यार भरी जिंदगी 



ऐसा लगता है बारिश की पहली बूंद कुछ कहना चाहती है।बारिश किसको पसंद नहीं होती, आप और हम सब चाहते हैं पहली बारिश में भीगने का मज़ा कितना है। 
बरसात के मौसम अपने साथ कितना कुछ लाता है। जब पहली बारिश होती है मानो बादलों को लगता है बस सबको पागल ही करदें। 

यह भी पढ़े: True love story in hindi 


वो आकाश पे बादलों का घिर आना, ठंडी हवाएं, सुहाना मौसम, मानों सब आपको कह रहें हो भी खो जाओ इनमें। पहली बारिश में मोर भी झूम उठते हैं, मोरों को भी बारिश बहुत पसंद होता है आपने देखा है कैसे, जैसे ही कले बादल आसमान में दिखने लगते हैं वैसे ही मोर भी झूमने लगते हैं, नाचने लगते हैं। 



पहली बारिश का तो मज़ा ही बहुत अलग होता है। गाँव की वो मिट्टी की खुशबु। जब मेरे गाँव में बारिश होती है तो वो मिट्टी की सोंधी सोंधी खुशबु आनंद आ जाता है। बच्चे सारे खलिहान में खेल रहे होते हैं। सभी जानवर भी मस्ती में नाचने लगते हैं। वो दिल को इतना सुकून देने वाला समय होता है, लगता है भी बारिश को देखते रहे और आनंद लें। पहली बारिश की तो बात ही कुछ और होती है। 




वो माँ के हाथ के गरमा गरम पकौड़े, लगता है ये बरिश न रुक और ये पकौड़े भी खत्म न हों। बारिश का मौसम होता ही इतना प्यारा है। मन को शांति का अनुभव होता है। 


ऐसा लगता है बारिश का तो खेत भी बेसब्री से इंतेजार करते हैंं। हरि भरी फसल लेकर खड़े रहते हैं खेतों में, "कब बारिश आये और मैं भी झुमु "  बारिश का मज़ा हर कोई लेता है। 





लेखन और संपादन: कहानी रिश्ते की : टीम 

आप इस लेख को ॥ कहानी रिश्ते की ॥ के माध्यम से पढ़ रहे हैं।  हमारे लेख को पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद, हमें उम्मीद है कि आपको यह लेख अच्छा लगा होगा, कृपया इस लेख को अधिक से अधिक अपने मित्रो से शेयर करें।

!! धन्यवाद मित्रो,,,,,,,,


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ